Display ad

The Kashmir Files Review ott, स्टार कास्ट यहां जानें क्या है इसमें ऐसा खास


विवेक अग्निहोत्री की फिल्म द कश्मिर फाइल्स रिलीज हो चुकी है। कश्मीरी पंडितों की सच्ची त्रासदी पर आधारित ये फिल्म आपको सोचने पर मजबूर कर देगी। अनुपम खेर की बेहतरीन अदाकारी दर्शकों को 1990 के उसी दौर में ले गई जब कश्मीरी पंडित अपना घर छोड़ने पर मजबूर हुए।



कास्ट: अनुपम खेर, मिथुन चक्रवर्ती, दर्शन रावल, पल्लवी जोशी, पुनीत इस्सर, चिन्मय मंडलेकर, भाषा सुम्बली, प्रकाश बेलावडी, अतुल श्रीवास्तव आदि

निर्देशक: विवेक अग्निहोत्री

स्टार रेटिंग: 4

कहां देख सकते हैं: थिएटर्स में



कहानी है एक ऐसे कश्मीरी पंडित लड़के कृष्णा पंडित (दर्शन रावल) की जो जेएनयू जैसे मिजाज वाली एक यूनिवर्सिटी में आजादी गैंग के साथ जुड़ जाता है और उनके तर्कों से लाजवाब होकर कश्मीर (Kashmir) की आजादी के नारे भी लगाने लगता है. हालांकि उसे ‘भारत तेरे टुकड़े होंगे इंशाअल्लाह’ कहने में थोड़ी दिक्कत होती है. लेकिन उसकी प्रोफेसर राधिका मेनन (पल्लवी जोशी) अपने तर्कों से उसके सारे कन्फ्यूजन को दूर करती है. बाद में राधिका उसे स्टूडेंट यूनियन के प्रेसिडेंट पद के चुनाव में खड़ा कर देती है. 



कहानी में ट्विस्ट

लेकिन अचानक उसके दादा पुष्कर नाथ पंडित की मौत हो जाती है, जो अपनी आखिरी इच्छा बताकर गए थे कि उनकी अस्थियां कश्मीर में उनके घर में बिखेरी जाएं लेकिन चार दोस्तों की मौजूदगी में. ये चार दोस्त थे पूर्व आईएएस ब्रह्म दत्त (मिथुन चक्रवर्ती), पूर्व डॉक्टर महेश कुमार (प्रकाश बेलावडी), पूर्व डीजीपी हरि नारायण (पुनीत इस्सर), पूर्व पत्रकार विष्णु राम (अतुल श्रीवास्तव). इन चारों के साथ जब वो कश्मीर पहुंचता है तो फिर कहानी की परतें एक-एक कर खुलने लग जाती हैं. कहानी उस हादसे की जिसने 5 लाख कश्मीरी पंडितों (Kashmiri Pandits) को कश्मीर छोड़ने पर मजबूर कर दिया. कहानी उस साजिश की जिसने कश्मीर को आजाद करने के लिए हजारों हत्याओं की योजना बनीं. कहानी उन आतंकियों (Terrorists) की जिन्होंने कश्मीर की धरती को हिंदू विहीन करने की साजिश रची. कहानी जिससे अब तक कृष्णा से ये कह कर छुपाया गया था कि माता-पिता एक एक एक्सीडेंट में मारे गए थे.


 कहानी है कृष्णा पंडित के पिता को बुरी तरह मारने की, उनके खून से सने चावल उसकी मां शारदा (Bhasha Sumbli) को खाने पर मजबूर करने की, उसकी मां को आरा मशीन पर रखकर बीच से चीर देने की, उसके भाई को गोली मारकर खत्म कर देने की. आपकी आंखों में इस मूवी को देखते हुए कई बार आंसू आएंगे. जेहन में फौरन सवाल आएगा कि किसी को पता क्यों नहीं चला? भारत सरकार ने कोई एक्शन क्यों नहीं लिया, प्रशासन और फौज क्या कर रही थी? देखा जाए तो मूवी बनाने का मकसद बस यही था कि हर भारतीय के मन में ये सवाल उठें और वो उनके जिम्मेदार लोगों पर उंगली उठाएं. 



विवेक अग्निहोत्री ने सालों रिसर्च कर इस फिल्म की कहानी पर काम किया है जो स्क्रीन पर साफ नजर आता है। कश्मीरी पंडितों के विस्थापन और नरसंहार की इस कहानी में निर्देशक ने कई मुद्दों को छुआ है। निर्देशक ने खासतौर पर तीन किरदारों के जरिए कश्मीरी पंडितों की पीड़ा दिखाने की कोशिश की है। हालांकि कहानी में कई बार चीजों को दोहराया भी गया है, जो आपको थोड़ा अटपटा लग सकता है। 

the kashmir files ott platform release date Hindi

कश्मीरी पंडितों पर बनी फिल्म द कश्मीर फाइल्स को जबरदस्त ऑडियंस मिल रही है. फिल्म में कश्मीरी पंडितों के दर्द को दिखाया गया है. जो लोग भी इस मूवी को देखकर आ रहे हैं वे औरों को भी इसे देखने को लेकर प्रेरित कर रहे हैं. कई लोगों के लिए तो इस फिल्म का बनना किसी सपने के सच हो जाने जैसा है. लोग थियेटर से बाहर निकलने के बाद रो रहे हैं, बहुत भावुक नजर आ रहे हैं. फिल्म को ज्यादा से ज्यादा दर्शकों तक पहुंचाया जाए, इसके लिए फिल्म को ओटीटी पर भी रिलीज किए जाने की तैयारी चल रही है. 

फिल्म नेटफ्लिक्स पर होगी रिलीज

सूत्रों की मानें तो द कश्मीरी फाइल्स मूवी  Zee5 पर रिलीज की जाएगी. इसे किस दिन रिलीज किया जाएगा इसकी जानकारी तो अभी नहीं साझा की गई है मगर ऐसा माना जा रहा है कि मूवी को जल्द ही OTT पर रिलीज किए जाने की तैयारी है. फिल्म थियेटर्स में 11 मार्च, 2022 को रिलीज हुई. मगर रिलीज के पहले स्पेशल स्क्रीनिंग के दौरान का भी वीडियो सामने आया था जिसमें लोग फिल्म खत्म होने के बाद फूट-फूटकर रोते नजर आ रहे थे. वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी खूब हुआ था और उसे देख लोगों के फिल्म देखने की इच्छा भी काफी बढ़ गई. 



Post a Comment

0 Comments

Close Menu