Display ad

John Abraham ki Attack Movie ka review Hindi|जॉन अब्राहम की फिल्म 'अटैक' सिनेमाघरों में रिलीज हो गई

 attack movie john abraham attack movie review in hindi attack movie attack movie review attack movie release date attack movie budgeta ttack movie rating attack movie collection attack movie imdb attack movie trailer




John Abraham ki Attack Movie 

कलाकार

जॉन अब्राहम , जैकलीन फर्नांडीज , रकुल प्रीत सिंह , प्रकाश राज , किरण कपूर और रत्ना पाठक शाह

लेखक

सुमित बथेजा , विशाल कपूर , लक्ष्य राज आनंद और जॉन अब्राहम

निर्देशक

लक्ष्य राज आनंद

निर्माता

जयंती लाल गडा , जॉन अब्राहम और अजय कपूर

रिलीज डेट release date

1 अप्रैल 2022

कहानी 
फिल्म की कहानी की शुरुआत में हम देखते हैं के पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक हो रहा है, जिसे अर्जुन शेरगिल (जॉन अब्राहम) लीड कर होता है। वहां से टीम एक लश्कर के लीडर हामिद गुल को पकड़ लाती है। कहानी कुछ महीने आगे बढ़ती है। अर्जुन की जिंदगी में आएशा (जैकलीन) आती है। दोनों हंसी खुशी जी रहे होते हैं, जब अचानक एक दिन दिल्ली के एयरपोर्ट पर एक बड़ा आतंकवादी हमला होता है। इस हमले में जख्मी हुए अर्जुन के गले से नीचे उसका पूरा शरीर पैरलाइज़ हो जाता है। वह अपनी मां के साथ एक अफसोस में जिंदगी गुजार रहा होता है, जब आर्मी वाले फिर अर्जुन को याद करते हैं। लश्कर के नए लीडर उमर गुल से निपटने के लिए आर्मी एक सुपर सोल्ज़र तैयार करना चाहती है, जिसके लिए उन्होंने अर्जुन को चुना है। साइंटिस्ट (रकुल प्रीत) एक ऐसी चिप तैयार करती हैं जिसे इंसान के दिमाग में लगाकर फिट किया जा सकता है। फिर इंटेलिजेंट रोबोट असिस्टेंट के जरीए इंसान को हर कमांड दिया जा सकता है। इस चिप को अर्जुन के दिमाग में फिट कर दिया जाता है। जल्द ही अर्जुन अगले मिशन के लिए तैयार हो जाता है। लेकिन इस बीच संसद पर एक बड़ा आतंकी हमला हो जाता है। वहां प्रधानमंत्री समेत सभी मंत्रियों को कैद कर लिया जाता है और सरकार के सामने कुछ मांग ऱखी जाती है। अब सरकार आतंकवादियों की मांग पूरी करती है या सुपर सोल्जर अर्जुन कोई चक्रव्यूह रचेगा.. यही है फिल्म की कहानी।


सुपरसोल्जर की अवधारणा नई नहीं है। तमाम विदेशी फिल्मों में दर्शक इसे देख भी चुके हैं। नया है इस सुपरसोल्जर का और इसके शरीर में लगाए गए कंप्यूटरीकृत सिस्टम की कृत्रिम मेधा (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) के बीच संवाद। जॉन अब्राहम ने अमेरिका के एक दिव्यांग की कहानी से प्रेरित होकर ये कहानी सोची। फिल्म ‘न्यूयॉर्क’ के दिनों के अपने परिचित लक्ष्य राज आनंद को इस पर फिल्म बनाने की जिम्मेदारी सोची। सोचने वाली बात यहां ये है कि लक्ष्य राज आनंद को यशराज फिल्म्स की पाठशाला में ट्रेनिंग मिली। भाई भी उनका बड़ा डायरेक्टर है। लेकिन, बतौर निर्देशक उन्हें पहला मौका दिया जॉन अब्राहम ने। वह इसके प्रोड्यूसर भी हैं और जॉन की बनाई फिल्मों की एक ब्रांडिंग तो है कि ये आपको बोर नहीं करती और कुछ नया दिखा जाती है।


तकनीकी रूप से समृद्ध फिल्म


‘विकी डोनर’, ‘मद्रास कैफै’ और ‘बाटला हाउस’ जैसी फिल्मों की बनाई लीक पर आगे बढ़ती फिल्म ‘अटैक’ (Attack) पार्ट वन भूमिका बनाने में भले थोड़ी देरी करती हो और इंटरवल के पहले हिस्से में इसकी गति मध्यम भी है लेकिन इंटरवल के बाद ये बिल्कुल ‘धूम’ मचा जाती है। जॉन अब्राहम हिंदी सिनेमा की फ्रेंचाइजी फिल्मों का सबसे लोकप्रिय चेहरा रहे हैं और उनके चेहरे के मासूमियत के साथ उनकी आंखों में दिखने वाला विश्वास ही उनको इस किरदार के लिए बिल्कुल सही चुनाव बनाता है। फिल्म के एक्शन सीन्स खासे दमदार हैं और हिंदी सिनेमा में अरसे बाद कुछ अलग सा दिखने वाला एक्शन रचने के लिए इसकी पूरी टीम तारीफ की हकदार है।


# Attack movie release date
# Attack movie release on which Platformn
# Attack movie release date 2022
# Attack movie release on Amazon Prime
# Attack movie Review
# Attack Movie trailer release date

Post a Comment

0 Comments

Close Menu