Ad Code

haseena dilruba review in hindi | haseen dillruba review anupama chopra


 

फिल्म हसीन दिलरुबा का इंतजार खत्म हुआ. नेटफ‍िल्स पर 2 जुलाई को रिलीज हसीन दिलरुबा जबरदस्त रोमांच और सस्पेंस से भरपूर है. कहानी के अंत तक लगता है जैसे आप किसी उपन्यास को पर्दे पर देख रहे हैं.
निर्देशक विनील मैथ्यू ने हसीन दिलरुबा की कहानी को बेहद नाप-तौल कर परोसा है जिसका हर एक सीन सस्पेंस से पर्दा उठाती है. आइए जानें कैसी रही विक्रांत मैसी और हर्षवर्धन राणे की हसीन दिलरुबा जिसपर कत्ल का इल्जाम लगा है.


Movie Review:

 हसीन दिलरुबा
कलाकार: तापसी पन्नू, विक्रांत मैसी, हर्षवर्धनराणे, आदित्य श्रीवास्तव, दया शंकर पांडे, यामिनी दास आदि।
निर्देशक: विनिल मैथ्यू
ओटीटी: नेटफ्लिक्स
रेटिंग: **

Haseen Dillruba review in hindi 

रानी कश्यप (तापसी पन्नू) को देखने लड़के वाले यानी रिशू सक्सेना (विक्रांत मैसी) आते हैं. पहली बार में ही रिशू को रानी से प्यार हो जाता है. वह उसके साथ प्यार के, रोमांस के सपने देखने लगता है. अब रानी ठहरी दिल्ली की और रिशू हर‍िद्वार के ज्वालापुर का. रिशू एकदम गाय की तरह है सीधा. वहीं रानी है तेज-तर्रार, मॉर्डन, बबली टाइप लड़की. रिशू की मां पहले तो उसकी शादी के पीछे हाथ धोकर पड़ी थी पर अब रानी से शादी ना करने के लिए वह बेटे को सुसाइड तक की धमकी दे देती है. खैर, जब लड़का-लड़की राजी तो क्या करेगा काजी. शादी होती है और मॉर्डन ख्यालातों वाली रानी पति से प्यार और रोमांस की उम्मीद करती है. बेचारा रिशू रानी की खूबसूरती के आगे इतना नर्वस रहता है कि उससे कुछ नहीं हो पाता. रानी रिशू को रिझाने की पूरी कोश‍िश करती है रिशू भी अपनी मर्दानगी दिखाने का टोटका सीखने लगता है. पर रानी को सिर्फ निराशा हाथ लगती है. 


Haseen Dillruba review in hindi 


एक दिन रिशू के घर उसका मौसेरा भाई नील (हर्षवर्धन राणे) आता है. लंबा-चौड़ा, कसरत करने वाला, स्मार्ट एंड गुड लुक‍िंग नील को देख रानी का दिल फिसलने लगता है. नील भी भाभी रानी की उम्मीद को हवा देने लगता है. एक दिन मौका पाकर रानी और नील मिलते हैं और फिर रानी रिशू को भूल अपनी मर्यादा लांघ जाती है. 

सबकुछ होने के बाद नील रानी को बिना कुछ बताए वहां से चला जाता है. रानी को दुख होता है और वह रिशू को सारा सच बता देती है.
अब तक इन बातों से अनजान रिशू जो को बड़ा धक्का लगता है. रानी को अपनी करनी पर पछतावा होता है वहीं रिशू पर गुस्से का ऐसा भूत सवार होता है कि वह रानी को चोट पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ता है. खैर, रानी की लाख माफी मांगने के बाद आख‍िरकार रिशू उसे माफ कर देता है और दोनों के बीच सब धीरे-धीरे ठीक होने लगता है. 



Haseen Dillruba review in hindi 

रानी और रिशू की पटरी पर लौटी शादीशुदा जिंदगी में एक दिन फिर नील यूटर्न बनकर वापस आ जाता है. फिर घर में धमाका होता है और रिशू का कटा हुआ हाथ जिसमें उसने रानी का नाम गुदवाया था, वो घटनास्थल से मिलता है.
पुलिस को शक है कि रानी ने ही अपने लवर के साथ मिलकर पति का कत्ल किया है. जबकि रानी लाय ड‍िटेक्टर टेस्ट में भी रिशू के मर्डर के आरोप को झूठा साबित कर देती है. अगर रानी सच कह रही है तो फिर रिशू की मौत कैसे हुई है. जैसा कि शुरुआत में ही बताया फिल्म के अंत तक सस्पेंस बरकरार है. 


Haseen Dillruba review in hindi 

फिल्म की पटकथा को निर्देशक विनील मैथ्यू ने बहुत ही सुलझे हुए तरीके से बुना है.
फिल्म की कहानी, स्क्रीनप्ले और डायलॉग्स कनिका ढ‍िल्लों ने लिखी है. हर एक सीन कसा हुआ है. फिल्म की एक और खास‍ियत इसकी पंचलाइन्स रही. प्यार के शहद में लिपटे ये लाइन्स सुनकर याद ही हो जाने हैं.
जैसे जैसे फिल्म आगे बढ़ती है रोमांच और बढ़ता है. आप आख‍िर तक कातिल का अंदाजा लगाते रह जाएंगे.    




#haseendillrubareview #anupamachopra 


Post a Comment

0 Comments

Close Menu